The Chopal

इन दवाओं की कीमतों में किया संशोधन, नया रेट जारी

 

The chopal, New Delhi: सरकार ने 128 दवाओं के दामों की समीक्षा की है. इसमें एंटीबायोटिक्स और एंटीवायरल दवाएं शामिल हैं. नेशनल फार्मास्युटिकल प्रोडक्ट प्राइस अथॉरिटी (NPPA) ने इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की है और निर्धारित अधिकतम कीमतों की जानकारी साझा की है. जिन दवाओं की कीमतों में संशोधन किया गया है उनमें Paracetamol, Ibuprofen, Amoxicillin और अन्य शामिल हैं.

ये खास दवाएं लिस्ट में शामिल

एक रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें इंजेक्टेबल एमोक्सिसिलिन और क्लैवुलानिक एसिड एंटीबायोटिक्स, वैनकोमाइसिन, अस्थमा में इस्तेमाल होने वाली सल्बुटामोल, कैंसर की दवा ट्रैस्टुजुमाब, दर्द निवारक इबुप्रोफेन और बुखार की दवा शामिल हैं. वली पैरासिटामोल को उनकी सूची में शामिल किया गया है. नोटिफिकेशन के मुताबिक, एमोक्सिसिलिन कैप्सूल की कीमत 2.18 रुपये जबकि सेटीरिजिन टैबलेट की कीमत 1.68 रुपये तय की गई थी.

मधुमेह की दवाओं में भी बदलाव

नेशनल फार्मास्युटिकल प्राइस अथॉरिटी ने अपने नोटिफिकेशन में कहा है कि दवा कंपनियां सरकार द्वारा तय कीमत पर ही अपनी दवाएं बेचेंगी. हालांकि, इन सभी दवाओं की इन कीमतों में जीएसटी शुल्क शामिल नहीं है. एनपीपीए ने 2013 के ड्रग प्राइस कंट्रोल ऑर्डर (डीपीसीओ) के तहत अधिसूचित 12 फॉर्मूलेशन की खुदरा कीमतें भी निर्धारित कीं. मधुमेह के रोगियों को दी जाने वाली ग्लिमेपाइराइड, वोग्लिबोस और मेटफॉर्मिन के संयोजन वाले टैबलेट की कीमत 13.83 रुपये निर्धारित की गई थी.

इबुप्रोफेन अब रुपये में उपलब्ध होगा

एनपीपीए लिस्ट में शामिल अन्य जरूरी दवाओं की बात करें तो इबुप्रोफेन 400mg टैबलेट अब 1.07 रुपये में बिक सकती है. इसके अलावा पेरासिटामोल, फिनाइलफ्राइन हाइड्रोक्लोराइड, डिफेनहाइड्रामाइन हाइड्रोक्लोराइड और कैफीन टैबलेट का खुदरा मूल्य 2.76 रुपये निर्धारित किया गया है. इसके साथ ही एमोक्सिसिलिन और क्लैवुलानिक एसिड इंजेक्शन की अधिकतम कीमत 90.38 रुपये रखी गई है.

एनपीपीए 1997 से काम कर रहा है

वर्ष 1997 में स्थापित नेशनल फार्मास्युटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी यानी एनपीपीए फार्मास्यूटिकल्स की कीमतों को निर्धारित और समीक्षा करती है साथ ही डीपीसीओ के प्रावधानों को लागू करती है और फार्मास्यूटिकल्स नियंत्रित दवाओं की कीमतों की निगरानी करती है.

Read Also: बजट 2023 से पहले महंगाई मोर्चे पर आम आदमी को राहत, भारत में सस्ता हुआ ये सामान