The Chopal
कॉटन भाव पहुंचा रिकॉर्ड बुलंदियों पर, केंद्र सरकार ने कहा आयात शुल्क में कटौती नही
 

The Chopal, New Delhi

Cotton Price Reached Record High : गुरुवार को केंद्रीय कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल ने स्पष्ट किया कि कपास पर आयात शुल्क कम करने या कपास्या खली को वायदा बाजार से बाहर करने जैसा कोई विशेष सरकार के विचाराधीन नहीं है. उन्होंने कहा कि कपड़ा उद्योग और कपास व्यापार से जुड़े लोगों को आपसी तालमेल के साथ काम करना चाहिए.

वह आज कपड़ा उद्योग के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे. उन्होंने कहा कि कपास आयात पर शुल्क जो फिलहाल 10 प्रतिशत है. उसे कम करके किसानों के हितों पर कुठाराघात नहीं किया जा सकता और न ही किसी तरह से वायदा बाजार पर कपास कल के कारोबार पर अंकुश लगाया जा सकता.

दोपहर बाद मजबूती मिली

इस समाचार के बाद गुरुवार सुबह डाउन चल रहे कपास कंपलेक्स के बाजार को दोपहर बाद मजबूती मिली. दरअसल कपड़ा उद्योग के साथ-साथ देश की कई अन्य कॉटन से जुड़ी एसोसिएशन कपास की बढ़ती कीमतों को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार से मांग कर रही थी कि कपास के आयात शुल्क को समाप्त किया जाए और कपास्या खली को वायदा बाजार से प्रतिबंधित किया जाए.

लेकिन केंद्र सरकार द्वारा इन पर सहमति न देने से बाजार फिर तेज हो गया वैसे ही अंतरराष्ट्रीय बाजार में कपास में बड़ी तेजी है. जिससे घरेलू बाजार भी ऐतिहासिक तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस साल मार्च तक को टर्न कॉन्प्लेक्स में मंदी की कोई संभावना नहीं है.