The Chopal
किसानों की बल्ले - बल्ले : अब प्याज के बीजों पर 50 % सब्सिडी के साथ-साथ मिलेगी, 44 हजार रूपए तक की मदद, ऐसे उठाएं लाभ
 

The Chopal , Farmer News 

Farmer News : हमारी सरकार किसानों को प्रोत्साहन देने के लिए कोई ना कोई कदम उठाती रही है. दरअसल, अब  हरियाणा सरकार ने प्याज की खेती  को बढ़ावा देने के लिए प्याज के बीज पर 50 प्रतिशत सब्सिडी देने का फैसला किया है. इस योजना के पीछे का मकसद किसानों को  ऐसी फसल खेती के प्रति प्रोत्साहित करना है   जो उन्हे कम लागत अधिक मुनाफा दे 

8 किलो प्याज़ के बीज होगा उपलब्ध (8 kg onion seeds will be available)

कितना बीज उपलब्ध करवाएगी सरकार

आपकी जानकारी के लिए  बता दें कि प्याज के बीज पर सब्सिडी की अधिकतम राशि 500 रुपये प्रति किलो बीज या फिर 50 प्रतिशत में जो भी कम हो वो प्रदान की जाएगी. इसके अलावा अधिकतम 8 किलो प्रति हेक्टेयर प्रति किसान बीज उपलब्ध कराया जायेगा.

रुपयों की भी  मदद उपलब्ध करवाएगी सरकार

यानि एक किसान इस छूट पर अधिकतम 8 किलो बीज ले सकता है. इसका मतलब प्रत्येक किसान को 4000 रुपयों का फायदा मिलेगा सकेगा. साथ राज्य में प्याज की खेती करने वाला इंसान 44000 रुपयों की भी मदद ले सकता है.\

प्याज़ की इन  किस्मों पर मिल रही है छूट 

इस योजना में प्याज़ की एएफडीआर किस्म (AFDR Onion Variety) की कीमत 1450 रुपये है, जबकि इसकी असल कीमत 1950 रुपये है. साथ ही प्याज़ की दूसरी किस्म भीमा सुपर (Bhima Super Onion Variety) पर भी 500 रुपयों की छूट दी जा रही है. इस किस्म की असल कीमत भी मार्किट में 1950 रुपये है लेकिन यह इस योजना की तहत किसानों को 1450 रुपये  प्रति किलो की कीमत से ही मिलेगी.

कहां और कैसे मिलेंगे प्याज़ के बीज 

उन्होंने कहा कि किसान हरियाणा बीज विकास निगम (एHaryana Seed Development Corporation) और राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान एवं विकास फाउंडेशन (National Horticulture Research & Development Foundation) के बीज बिक्री केंद्रों से नियमानुसार अपने हिस्से की राशि जमा कर खरीफ प्याज की विभिन्न किस्मों के बीज प्राप्त कर सकते हैं.

आपकी सुविधा के लिए बता दें कि प्याज़ के बीजों को खरीदने के लिए किसानों को हिसार के बीज बिक्री केंद्र करनाल या नहुँ से जाकर प्राप्त करना होगा. साथ ही आपको मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल (Meri Fasal Mera Byora Portal) पर पंजीकरण की प्रति भी ले जानी होगी. 
सब्सिडी के लिए जरूरी कागजात 

सब्सिडी प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना पहचान प्रमाण जैसे आधार कार्ड की फोटोकॉपी के साथ लाना होगा. उन्होंने कहा कि यह सब्सिडी पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जाएगी और सब्सिडी राशि की उपलब्धता तक लागू रहेगी.