The Chopal
सरसों में फिर हुआ सुधार, आगामी दिनों में आ सकता है उछाल, जानिए कहां कहां हुई तेज
 

The Chopal, Rajasthan

There May Be A Jump in Mustard Price : सरसों के प्रमुख उत्पादक राज्य राजस्थान में 2 दिन से चल रही खराब मौसम और सरसों की उपलब्धता सिमटने के कारण सरसों के भाव में तेजी दर्ज की गई. जयपुर का भाव 7700 और भरतपुर का भाव 7355 रुपए दर्ज किया गया. जबकि राजधानी दिल्ली में 100 रुपए की तेजी के साथ 7400 का भाव देखा गया.

सलोनी के सभी प्लांटों ने आज 100 रुपए भाव बढ़ाया. जिससे शमशाबाद का भाव 8350 और सलोनी कोटा का भाव 8250 के स्तर पर पहुंच गया. इसके साथ ही सरसों के तेल के भाव में भी 2 रुपए प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी दर्ज हुई है.

जयपुर सरसों का तेल एक्सपेलर लगभग ₹156 भिवानी का 153 रुपए 50 पैसे पहुंच गया. सरसों की नई फसल के लिए पिछले 2 दिन में हुई मावठ रूपी बरसात काफी मददगार साबित होगी. हालांकि राजस्थान के झालावाड़ जिले में मनोहर थाना चाचौड़ा और पंछी गांव के आसपास बुधवार देर शाम को भारी ओलावृष्टि से सरसों के साथ सब्जियों की फसल को नुकसान होने की खबर है.

आज शुक्रवार से राजस्थान के लगभग सभी जिलों में फिर से बरसात का दौर शुरू होने वाला है यदि ओलावृष्टि नहीं होती और बरसात के साथ तेज हवा नहीं चलती तो सरसों की फसल को कोई नुकसान नहीं होगा और यदि तेज हवा के साथ बरसात होती है या ओलावृष्टि होती है तो निश्चित रूप से सरसों को नुकसान होगा.

सरसों की उपलब्धता बिल्कुल जीरो

वहीं अब देशभर में सरसों की उपलब्धता बिल्कुल जीरो पर आ गई तथा 3 मिनट और प्लांटों के पास सरसों का नितांत अभाव है इसके चलते सरसों के लिए आगामी 10-15 दिन काफी महत्वपूर्ण है और इस अवधि में सरसों के भाव में काफी तेजी देखने को मिल सकती है. पिछले 10 दिनों में सरसों के भाव में जयपुर 42 प्रतिशत 700 रुपए का सुधार हुआ.

जबकि भरतपुर के भाव में 550 रुपए तक आगे बढ़ा है. उधर मध्य प्रदेश के गुना जिले में बुधवार रात को हुई तेज बरसात और ओलावृष्टि से राघोगढ़ और चांचौड़ा क्षेत्र में सरसों के साथ-साथ गेहूं, चना, धनिया की फसल को भी बड़ा नुकसान होने की खबर सामने आ रही है.