The Chopal
Sangeeta kalia : भाजपा मंत्री ने कहा था ‘गेट आउट’ तो आईपीएस ने दिया जवाब, 6 नौकरी छोड़ अफसर बनी थी संगीता कालिया,
The Chopal , Chandigarh Sangeeta kalia : आज हम भाजपा के मंत्री से उलझने वाली महिला आईपीएस संगीता कालिया की कहानी हम आपको बता रहे है. हरियाणा प्रदेश के जिला भिवानी की रहने वाली संगाती कालिया का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ. संगीता कालिया के पिता धर्मपाल जिला फतेहाबाद पुलिस विभाग में ही कारपेंटर
 
Sangeeta kalia : भाजपा मंत्री ने कहा था ‘गेट आउट’ तो आईपीएस ने दिया जवाब, 6 नौकरी छोड़ अफसर बनी थी संगीता कालिया,

The Chopal , Chandigarh

Sangeeta kalia : आज हम भाजपा के मंत्री से उलझने वाली महिला आईपीएस संगीता कालिया की कहानी हम आपको बता रहे है. हरियाणा प्रदेश के जिला भिवानी की रहने वाली संगाती कालिया का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ. संगीता कालिया के पिता धर्मपाल जिला फतेहाबाद पुलिस विभाग में ही कारपेंटर थे. भिवानी से ही पढ़ाई-लिखाई करने वाली संगीता कालिया के बारे में कहा जाता है कि वो बचपन के दिनों से पढ़ाई-लिखाई में काफी तेज थीं.

Sangeeta kalia : भाजपा मंत्री ने कहा था ‘गेट आउट’ तो आईपीएस ने दिया जवाब, 6 नौकरी छोड़ अफसर बनी थी संगीता कालिया,संगीता कालिया के पिता अपनी बेटी को पढ़ा-लिखा कर काबिल अफसर बनाना चाहते थे और संगीता अपने पिता के सपने को पूरा करने के लिए पूरी लग्न मेहनत करती थीं. फिर पढ़ाई पूरी करने के बाद संगीता ने सिविल सर्विसेज की तैयारी की,

फिर संगीता कालिया ने सिविस सर्विस की पहली परीक्षा उन्होंने साल 2005 में दी, लेकिन उनका चयन नहीं हो सका था. वहीं साल 2009 में संगीता ने फिर से सिविल सर्विसेज एग्जाम दिया. इस बार वह सफल रही. उन्हें हरियाणा में IPS कैडर मिला. संयोग ऐसा रहा ट्रेनिंग के बाद उन्हें उसी जिले का SP बनाया गया जहां कभी उनके पिता कारपेंटर हुआ करते थे, Sangeeta kalia

संगीता कालिया ने एक बार कहा था कि टीवी पर आने वाली धारावाहिक उड़ान को देखने के बाद उन्हें सिविल सर्विस की प्रेरणा मिली. बताया जाता है कि होनहार संगीता कालिया की नौकरी रेलवे में हुई थी. लेकिन सिविल सर्विस में नौकरी का सपना रखने वाली संगीता कालिया ने रेलवे की नौकरी छोड़ दी थी. इसी तरह उन्होंने कुल 6 नौकरियां छोड़ी थी,

जब संगीता कालिया फतेहाबाद में पुलिस अधीक्षक के तौर पर तैनात थीं

फिर साल 2015 में जब संगीता कालिया फतेहाबाद में पुलिस अधीक्षक के तौर पर तैनात थीं तब उनकी हरियाणा प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ बहस हो गई थी. अनिल विज वहां के कष्ट निवारण समिति के अध्यक्ष थे.

जिनकी 27 नवंबर 2015 को एक शिकायत की सुनवाई के दौरान विज ने कालिया को गेट आउट कह दिया था. कालिया बाहर नहीं गई तो विज को खुद बैठक छोड़नी पड़ी थी. बाद में कालिया का तबादला कर दिया गया था. इसके बाद साल 2018 में भी अनिल विज के साथ एक बैठक में संगीता कालिया नहीं आई थीं. इसे लेकर भी काफी विवाद हुआ था और मामले ने सुर्खिया बटोरी थी, और तो और जिला फतेहाबाद में थाना की बिल्डिंग बनाने का श्रेय एसपी संगीता कालिया को जाता है.

1 अप्रैल से बढ़ जाएगी महंगाई टीवी, फ्रिज, बाइक, कार, AC और दूध की बढ़ेंगी कीमतें, जानिए