The Chopal

Rajasthan Weather: राजस्थान में पीक पर ठंड, इन जिलों में मौसम शिमला जैसा, 19 को नए सिस्टम से बारिश के आसार

 

Rajasthan Weather News: राजस्थान प्रदेश में अगले दो दिन कड़ाके की सर्दी से कोई राहत नहीं मिलने वाली है। अब मौसम विशेषज्ञों की माने तो वर्तमान में जो कड़ाके की सर्दी का दौर चल रहा है। यह इस सर्दी सीजन का पीक है। 19 जनवरी को सर्दी का असर राजस्थान में कम होगा। अब उत्तर भारत के मौसम में होने वाले बड़े बदलाव से न केवल राजस्थान समेत मध्य भारत में बर्फीली हवा भी थमेगी, बल्कि बर्फ जमा देने वाली सर्दी से भी लोगों को राहत भी मिलेगी।

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार 19 से 23 जनवरी तक दो बैक-टू-बैक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस भी आएंगे। इसके प्रभाव से हिमाचल, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख से आ रही बर्फीली हवाएं भी रुकेगी। इससे राजस्थान समेत दिल्ली, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के हिस्सों में तापमान भी बढ़ने लगेंगे। और यहां लोगों को सुबह-शाम पड़ने वाली कड़ाके की सर्दी से राहत भी मिलेगी।

चूरू, फतेहपुर, माउंट जिलों में लगातार चौथे दिन पारा माइनस में

राजस्थान में आज लगातार चौथे दिन पारा जमाव बिंदु से भी नीचे भी दर्ज हुआ। सीकर के फतेहपुर में आज कल के मुकाबले आज तापमान गिरकर -4.5 तक पहुंच गया। यहां लगातार चौथा दिन है जब तापमान माइनस तीन डिग्री सेल्सियस से नीचे भी है। इसी तरह चूरू में आज जबरदस्त सर्दी भी रही। यहां पारा -2.7 तक रिकॉर्ड हुआ। चूरू में 8 साल बाद रात का तापमान इतना नीचे गया है, इससे पहले 3 जनवरी 2014 को भी चूरू में इतना ही पारा दर्ज हुआ था। इधर जयपुर के जोबनेर में आज न्यूनतम तापमान -3.5 डिग्री  तक सेल्सियस दर्ज हुआ।

23 जनवरी से बनेगा एक बड़ा सिस्टम

जानकारों के अनुसार 23 जनवरी को एक स्ट्रॉन्ग वेस्टर्न डिस्टर्बेंस उत्तर भारत में सक्रिय होगा। इससे हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के कई हिस्सों में तेज बर्फबारी भी होगी। इसके साथ ही हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, राजस्थान और पूर्वी मध्य प्रदेश के हिस्सों पर एक हवाओं का साइक्लोनिक सर्कुलेशन भी बनेगा, इसके असर से यहां बारिश भी हो सकती है। इस सिस्टम से मध्य भारत के कई हिस्सों में सीजन की पहली मावठ भी होगी।

इन जिलों में हो सकती है बारिश

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक इस सिस्टम का असर राजस्थान में 23 से 25 जनवरी देखने को भी मिलेगा। इससे भरतपुर, जयपुर और बीकानेर संभाग के जिलों में अच्छी बारिश देखी सकती है, जो रबी की फसल के लिए अमृत के समान भी होगी। इस बारिश से जयपुर, अजमेर, सीकर, झुंझुनूं, अलवर, भरतपुर, दौसा, सवाई माधोपुर, धौलपुर के अलावा गंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चूरू बेल्ट में दिन के तापमान में गिरावट भी होगी और यहां दिन में आसमान में हल्के बादल भी छाए रहेंगे।

प्रदेश के प्रमुख शहरों का न्यूनतम तापमान

शहर             न्यूनतम तापमान
अजमेर             6.6
बाड़मेर            8
बीकानेर          3
जयपुर            5.2
जैसलमेर        5.3
जोधपुर          7.5
कोटा            4.5
गंगानगर       2.8
उदयपुर        2.7

प्रदेश के प्रमुख शहरों का अधिकतम तापमान

शहर            अधिकतम तापमान
अजमेर           20.3
भीलवाड़ा       20.1
अलवर          17
जयपुर          19.8
पिलानी         20.7
सीकर          18
कोटा           19.6
चित्तौड़गढ़    22.2
उदयपुर       20.4
बाड़मेर        23.4
जैसलमेर      21.8
जोधपुर        21.7
बीकानेर       22
चूरू            19.6
गंगानगर       20.3

Also Read: मंडी भाव 16 जनवरी 2023: नरमा, ग्वार, सरसों, गेहूं, तारामीरा, मुंग एवं विभिन्न सभी कृषि फसलों के ताज़ा भाव