The Chopal

Weather: राजस्थान, पंजाब और हरियाणा के इन जिलों में साल की पहली बारिश, अब यहां लगेगा बादलों का अगला जमघट

 

Weather Update: उत्तर भारत में पड़ रही भारी सर्दी के साथ-साथ अब साल ही पहली बारिश का दौर शुरू हो चूका है. कहीं ज्यादा तो कहीं कम बारिश हुई है. आज सुबह-सुबह से ही मैदानी इलाकों में असर दिखा रहा है. जिसके कारण आज सुबह उत्तर राजस्थान और हरियाणा में कुछ जगह बूंदाबांदी और कहीं कहीं ज्यादा बारिश हुई है. 

दोपहर बाद बढ़ी बादलवाही के बाद राजस्थान के उत्तर-पश्चिमी जिलो में बूंदाबांदी की गतिविधियां तेज़ हुई है. जो अब जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, सिरसा, हिसार, फतेहाबाद, जींद, कैथल, संगरूर और पटियाला तक फैल चुकी है.

आज रात बारिश के नए मोटे-सघने बादल पाकिस्तान से रास्ते राजस्थान में दाखिल होंगे, जो रात में राजस्थान होते हुए पंजाब और हरियाणा पर भी प्रभावी होंगे.

आज रात से कल सुबह के बीच जैसलमेर, बीकानेर, उत्तर जोधपुर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, सिरसा, फतेहाबाद, हिसार, भिवानी, जींद, सोनीपत, दिल्ली, पानीपत, करनाल, कैथल, कुरुक्षेत्र, यमुनानगर, अम्बाला, पंचकूला, चंडीगढ़, मोहाली, पटियाला, संगरूर, फतेहगढ़ साहिब, रूपनगर, लुधियाना, नवाशहर,

होशियारपुर, गुरुदासपुर, पठानकोट, अमृतसर, जालंधर, मोगा, बरनाला, मानसा, भटिंडा, फरीदकोट, मुक्तसर, फाजिल्का, सहारनपुर, शामली, बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर व बिजनौर में सघनी बादलवाही के बीच बिखरी हुई हल्की बारिश और बूंदाबांदी देखी जाएगी.

उत्तर-पश्चिमी राजस्थान में कुछ एक जगह तेज़ बौछारे भी थोड़े समय के लिये गिर सकती है. और सर्दी भी बढ़ सकती है. इसलिए सर्दी और बारिश में खुद का और पशुओं का बचाव समय पर करें

दक्षिण हरियाणा, मध्य राजस्थान व शेष उत्तरप्रदेश में बरसात की उम्मीद नहीं है. हालांकि बादलवाही जरूर छाएगी, जिसके चलते छिटपुट जगह फुहारे गिर सकती है. मगर बरसात की कोई ज्यादा उम्मीद नहीं है.

Also Read: राजस्थान सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों से पालें से किसानों के खेतों में नुकसान की मांगी रिपोर्ट, मिलेगा मुआवजा