The Chopal
Crop Protection: चूहों को बिना मारे इस तरीके से खेत से भगाएं, फसलों में नुकसान से होगा बचाव
 

The Chopal, New Delhi: किसानों की फसल तैयार होने के साथ चूहे फसलों को खराब करना शुरू कर देते है । ऐसे मे अगर समय से कुछ सही उपाय किसानों द्वारा कर लिए जाए तो नुकसान से बचा जा सकता है। वैसे आमतौर पर चूहों की संख्या मई-जून माह में कुछ कम होती है, यही सही समय होता है चूहों से फसल को बचाने के लिए किसान साथियों को अभियान सामूहिक रूप में चलाना चाहिए.

चूहे खेत खलिहानो, घरों और गोदामों में अनाज खाने के साथ-साथ ही अपने मलमूत्र से अनाज को खराब कर देते हैं और इससे बीमारियां फैलने का खतरा भी बना रहता है. एक शोध के मुताबिक खेत में खड़ी फसलों को 5 से लेकर 15 प्रतिशत तक का नुकसान चूहे द्वारा हो जाता हैं. 

आमतौर पर चूहे सबसे ज्यादा खड़ी फसलों को काटते हैं. असीमित प्रजनन क्षमता के कारण इन पर लगाम कसना बहुत मुश्किल होता है. जानकारी मुताबिक एक जोड़ा चूहा एक वर्ष में 800 से लेकर 1200 की संख्या प्रजनन बढ़ा लेता है.

कई कारणों से माना जाता है ये चूहे एक साल में इतने ज्यादा अनाज का नुकसान करते हैं कि उससे विश्व की आधी आबादी का पेट आराम से भरा जा सकता है. इससे अरबों रुपयों का नुकसान भी हर साल हो जाता होता है. इसके बाद भी चूहों की आबादी घटाने में कोई खास सफलता नहीं मिल रही है.

चूहे फसल खराब ना करें इसलिए कई उपाय किये जाते हैं. बड़ी संख्या में चूहों को नष्ट भी किया जाता है. अब सवाल ये उठता है कि ऐसे कौनसे उपाय किए जा सकते हैं कि चूहों को मारे बिना उन्हें फसल से दूर रखा जा सके तो आइए जानते है कुछ देशी नुकसे जो इसमे काफी मददगार है।  

लाल मिर्च का उपयोग 

आमतौर पर खाने में प्रयोग होने वाली लाल मिर्च चूहों को भगाने के लिए काफी मददगार है. जिन जगहों पर चूहों का आतंक फैला रहता है वहां पर इसका छिड़काव चूहे भगाने में काफी मददगार साबित होता है. जहां से चूहें ज्यादा आते हैं, वहां पर लालमिर्च का पाउडर डाल दें. इंसानों के बाल से भी चूहे दूर भागते हैं. क्योंकि इसको निगलने से इनकी मौत हो जाती है इसलिए इसके नजदीक आने से ये बहुत डरते हैं.

पिपरमेंट का उपयोग 

चूहों को पिपरमेंट की गंध पसंद नहीं होती है. अगर हम खेत  में रुई में पिपरमेंट लगाकर रख दें तो चूहे अपने आप दूर भाग जाएंगे. 

पुदीना का उपयोग 

पुदीने की पौध यदि खेत में कुछ जगह रोप दी जाए तो चूहे कभी आस पास भी नहीं फटकेंगे. पुदीने की महक चूहों से बर्दाश्त नहीं होती है. अगर उनके बिल के बाहर  पुदीने की पत्तियां रख देंगे तो चूहे बिल के बाहर आ जाएंगे और दोबारा खेत का रुख भी कभी नहीं करेंगे.

काली मिर्च का उपयोग 

अगर आप खेत से चूहों को भगाना चाहते हैं तो उस जगह काली मिर्च के दाते फैला दें, जहां चूहे छिप जाते हैं. ये तरीका काफी कारगर हो सकता है.

फिटकरी का उपयोग 

फिटकरी चूहे की जानी दुश्मन होती  है. फिटकरी के पाउडर का घोल बना लें और बिल के पास छिडकाव कर दें. ये चूहे भगाने का एक  सरल, सस्ता और प्रभावी उपाय है.

तेजपत्ता का उपयोग 

तेजपत्ता चूहों को भगाने का एक अचूक उपाय है. इसकी गंध से चूहे अपने आप भाग जाते हैं. इसलिए आप चाहे तो घर पर उन जगहों पर तेजपत्ता रख सकते हैं जहां पर चूहे ज्यादा मात्रा मे आते हैं.

कपूर की गोली का उपयोग 

घर में कपूर की गोलियां को ज्यादा पूजा के लिए इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन, इन्हें चूहे भगाने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इन्हें चूहों के बिल में व आस-पास डाल दें इनकी गंध से चूहों को सांस लेने में परेशानी होने लगती है और वे बाहर निकल जाते हैं.और दोबारा वापिस भी जल्दी से नहीं आते । 

उपरोक्त लिखे सभी देशी उपायों से अगर किसान साथी खेतों मे प्रयोग करते है तो वे चूहों से होने वाले नुकसान से फसल को बिना चूहों को मारे बच सकते है।

Also Read: कोटा मंडी भाव 23 सितंबर 2022: सोयाबीन, उड़द और मुंग में तेजी, धनिया मंदा