The Chopal

भारत में Google Play ने लॉन्च किया UPI Autopay, भुगतान होगा और आसान, देखें फायदे

 

The Chopal (New Delhi): UPI की Autopay सुविधा आपकी सदस्यता को सेट करने में मदद करती है। किसी भी सब्सक्रिप्शन प्लान को खरीदने के लिए यूजर्स को कार्ट में पेमेंट मेथड पर क्लिक करना होगा। Google Play ने अपने प्लेटफॉर्म पर भुगतान के लिए UPI Autopay को भी जोड़ा है।

Google Play ने भारत में सदस्यता-आधारित खरीदारी के लिए UPI ऑटोपे लॉन्च किया है। UPI ने ऑटोपे को अपने प्लेटफॉर्म पर भुगतान विधि के रूप में पेश किया है। इसकी मदद से यूजर्स ऐप में सब्सक्रिप्शन के लिए आसानी से पेमेंट कर पाएंगे। स्वचालित भुगतान विधि सेट करके, चयनित सदस्यता के लिए भुगतान स्वचालित रूप से निर्दिष्ट समय पर किया जाएगा।

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनसीपीआई) ने यूपीआई 2.0 के तहत ऑटो पे पेश किया है। यह उपयोगकर्ताओं को किसी भी UPI एप्लिकेशन के माध्यम से भुगतान करने की अनुमति देता है। हालांकि, यह सर्विस सिर्फ यूपीआई ऐप पर ही काम करेगी जो इस फीचर को सपोर्ट करते हैं। UPI ऑटोपे उपयोगकर्ताओं को सब्सक्रिप्शन सेट करने में मदद करता है। यहां देखें कि इस फ़ंक्शन को कैसे सक्रिय किया जाए।

UPI Autopay: ऐसे करें एक्टिवेट

UPI Autopay एक्टिवेट करने के लिए गूगल ने पूरा तरीका बताया है. सबसे पहले यूजर्स को पसंदीदा सब्सक्रिप्शन प्लान चुनना होगा. इसे खरीदने के लिए कार्ट में पेमेंट मैथेड पर टैप करें. अब आपको Pay with UPI ऑप्शन चुनना होगा. इसके बाद सपोर्टेड UPI एप्लिकेशन में इस खरीदारी को अप्रूव कर दें. इस तरह आसानी से गूगल प्ले पर यूपीआई ऑटोपे एक्टिवेट हो जाएगा.

UPI Autopay के फायदे

गूगल प्ले यूजर्स इस फीचर का फायदा उठाने के लिए Paytm, GPay, Amazon जैसी UPI पेमेंट ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं. नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NCPI) ने इस फीचर को नियमित तौर पर होने वाली पेमेंट्स के लिए पेश किया था.

  • इस फीचर का इस्तेमाल EMI या बिजली का बिल भरने और मोबाइल रिचार्ज करने में होता है.
  • समय से पेमेंट हो जाती है, इसलिए लेट फीस या पेनल्टी का खतरा नहीं होता है.
  • यूजर्स पेमेंट को कस्टमाइज कर सकते हैं. अपनी सुविधानुसार आप पेमेंट को मासिक, तिमाही या वार्षिक रूप में सेट कर सकते हैं.
  • पेमेंट में जब चाहे बदलाव किया जा सकता है.
  • यूजर्स सेट की गई पेमेंट को कभी भी कैंसिल कर सकते हैं.
  • पेमेंट करने का आसान और सुरक्षित तरीका है.
  • कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देता है.
  • लंबी लाइनों में लगने की जरूर नहीं पड़ती है.
  • कोई पेपर वर्क या दस्तावेज की जरूरत नहीं है.

Read Also: WhatsApp Tips & Tricks: कंपेनियन मोड क्यों हो रहा है इतना मददगार? किस तरह करता है काम, जानिए पूरा तरीका