The Chopal
Monsoon Weather: राजस्थान में होगी भारी बारिश, आगामी 3 दिन तक इन जिलों में बरसेंगे बादल
अब मानसून दोबारा से जोर पकड़ेगा. बारिश का यह दौर 15 सितंबर या उससे बाद तक जारी रह सकता है. वैसे तो राजस्थान से मानसून की विदाई 15 सितंबर के बाद से होती है, लेकिन इस बार यह कुछ लेट तक सक्रिय रह सकता है.
 

Monsoon Weather: राजस्थान राज्य में इस साल साल मानसून की बारिश ने रिकॉर्ड तोड़ दिए लेकिन अब बढ़ती गर्मी के बीच अच्छी खबर सामने आ रही है की दुबारा फिर अच्छी बारिश का दौर शुरू हो सकता है. बीते 48 घंटे में प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश हुई. इससे तापमान में 5 डिग्री सेल्सियस तक गिरावट रही है. तेज गर्मी और उमस से लोगों को राहत मिली है.

अब मानसून दोबारा से जोर पकड़ेगा. बारिश का यह दौर 15 सितंबर या उससे बाद तक जारी रह सकता है. वैसे तो राजस्थान से मानसून की विदाई 15 सितंबर के बाद से होती है, लेकिन इस बार यह कुछ लेट तक सक्रिय रह सकता है.

वहीं, मौसम विभाग की रिपोर्ट देखें तो पिछले 24 घंटे में दक्षिणी राजस्थान के बांसवाड़ा, डूंगरपुर के अलावा पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, जालोर, बीकानेर और बाड़मेर जिले के कई इलाकों में बरसात हुई. सबसे ज्यादा बारिश जोधपुर के बालेसर में 44एमएम हुई.

इन क्षेत्रों में तापमान 2 दिन पहले तक 40 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया था. मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार दो दिन से हो रही बारिश का यह दौर अभी जारी रहेगा और लोगों को उमसभरी गर्मी से राहत रहेगी.

Also Read: Business Ideas: रेलवे का टिकट एजेंट बनकर घर बैठे कमा लेंगे 60 से 70 हजार रुपये महीना, ऐसे करें शुरुआत

आगे कैसा रहेगा मौसम, 

जयपुर मौसम केंद्र ने मंगलवार को बाड़मेर, जैसलमेर, सिरोही, जोधपुर, पाली, उदयपुर और डूंगरपुर जिलों और उनके आसपास के क्षेत्रों में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ हल्की से तेज बारिश होने की संभावना जताई है.

इसी तरह 14 सितंबर को बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़ और सवाई माधोपुर जिलों में अच्छी बारिश होने का अनुमान जताया है.

वहीं 15 सितंबर को बारां, भरतपुर, बूंदी, धौलपुर, झालावाड़, करौली और सवाई माधोपुर जिले में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई है.

इससे पहले 1944 में जून, जुलाई और अगस्त महीने के दौरान प्रदेश में कुल 611 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी। माना जा रहा है कि सितम्बर महीने में 78 साल पुराना 1944 का सर्वाधिक बारिश का रिकॉर्ड टूट सकता है.

Also Read: Dhan bhav Today: धान भाव में आज दिखी हल्की मंदी, देखें विभिन्न मंडियो में आज क्या रहा रेट