The Chopal
राजस्थान में 26 से 28 तारीख तक इन जिलों में होगी बारिश, देखें मौसम विभाग की भविष्यवाणी
 

The Chopal , Rajasthan

Rajasthan Rain In These Districts : राजस्थान में शीतलहर का असर कम हुआ है, परंतु कुछ घंटों बाद मौसम फिर बदलेगा. मौसम विभाग के अनुसार 24 और 25 दिसंबर को राजस्थान के कुछ जिलों में घना कोहरा छाया रहेगा. इसके बाद 26 से 28 दिसंबर तक कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है. ऐसे में सर्दी का असर फिर से बढ़ने की प्रबल संभावना है.

इन जिलों में बना रहेगा घना कोहरा

मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा के मुताबिक इस बार दिसंबर के दौरान मौसम में लगातार बदलाव हो रहा है. सर्दी ने पुराने रिकॉर्ड तोड़े हैं वहीं, पश्चिमी विक्षोभ भी लगातार बन रहा है. पश्चिमी विक्षोभ का असर राजस्थान में फिर दिखेगा.

इससे पहले 24 और 25 दिसंबर को 4 जिलों में घना कोहरा छाया रहेगा. मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार सीकर, झुंझुनू, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर जिलों में और अधिक कोहरा छाया रहेगा. इन जिलों में सुबह 10 बजे तक घना कोहरा बना रह सकता है, हालांकि दिन भर कोहरे की दस्तक देखने को मिल सकती है.

इन जिलों में होगी बारिश

मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार राजस्थान में 26 से 28 दिसंबर तक पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव रहेगा. पश्चिमी विक्षोभ के कारण राजस्थान, यूपी, दिल्ली समेत अन्य जगहों पर मौसम का मिजाज फिर से पूरी तरह बदल जाएगा. ऐसे में 26 दिसंबर को पूर्वी राजस्थान के जयपुर संभाग और पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग में छिटपुट स्थानों पर हल्की बारिश होगी.

वहीं पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर और अजमेर संभाग में 27 दिसंबर को हल्की से मध्यम बारिश होगी. पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग में हल्की बारिश की संभावना है. 28 दिसंबर को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और कुछ स्थानों पर बारिश होगी.

देश में यहां बदलेगा मौसम का मिजाज

अगले सप्ताह के दौरान, दो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होंगे और दोनों का प्रभाव देश के कुछ क्षेत्रों में दिखाई देगा. दूसरे पश्चिमी विक्षोभ का असर राजस्थान पर बना रहेगा, जिससे मावठ की संभावना जताई जा रही है. माना जा रहा है कि देश में कई जगहों पर बर्फबारी हो सकती है.  

पहला विक्षोभ शुक्रवार को और दूसरा रविवार को सक्रिय रहेगा. बता दें कि 24 से 29 दिसंबर के बीच पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की जा रही है. उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है.