The Chopal

एक ऐसी पोस्ट ऑफिस की स्कीम, जो आपके पैसे को दोगुना कर देगी, सिर्फ 1000 रुपये से कर सकते हैं शुरु

 

The Chopal, New Delhi: किसान विकास पत्र योजनाओं में लोगों को उत्कृष्ट रिटर्न के साथ निवेश राशि की सुरक्षा गारंटी मिलती है. इसी वजह से लोग निवेश के लिए पोस्ट ऑफिस स्कीम को चुनते हैं. किसान विकास पत्र कई प्रकार की लघु बचत योजनाएँ चलाता है. उनमें से एक है किसान विकास पत्र. यह योजना निवेशकों के बीच काफी लोकप्रिय है. हाल ही में सरकार ने किसान विकास पत्र में निवेश पर ब्याज दरें बढ़ाई हैं. अगर आप निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो पोस्ट ऑफिस की इस योजना में निवेश कर सकते हैं.

कितना मिलता है ब्याज

लोग अपने पैसे को दोगुना करने के लिए किसान विकास पत्र में निवेश भी करते हैं. पैसों को गुणा करने के मामले में यह काफी लोकप्रिय योजना है. सरकार ने धन के दोगुने होने की अवधि को भी कम कर दिया है. इससे पहले किसान विकास पत्र में निवेश पर 6.9 फीसदी की दर से ब्याज मिलता था. लेकिन अब इसे बढ़ाकर 7.0 फीसदी कर दिया गया है. अब अगर आप इस स्कीम में निवेश करते हैं तो आपको नई ब्याज दर से रिटर्न मिलेगा.

किसान विकास पत्र में न्यूनतम निवेश राशि 1,000 रुपये है. कोई अधिकतम निवेश निर्धारित नहीं है. 18 वर्ष या उससे अधिक आयु का कोई भी भारतीय नागरिक इस प्रणाली को खरीद सकता है. आप अपने नजदीकी डाकघर में जाकर इस योजना में निवेश शुरू कर सकते हैं. किसान विकास पत्र में निवेश की रकम पहले 124 महीनों में दोगुनी हो रही थी. लेकिन अवधि घटाने के बाद निवेशक अब पिछले महीने के 123 महीने (10 साल और 3 महीने) को दोगुना कर सकेंगे. यह बदलाव 1 अक्टूबर से प्रभावी हो गया है.

आप एक संयुक्त खाता खोल सकते हैं

आप देश के किसी भी डाकघर में इस योजना में निवेश कर लाभ का लाभ उठा सकते हैं. डाकघर की इस योजना में 10 साल से कम उम्र के बच्चे के नाम से कोई भी वयस्क खाता खोला जा सकता है. अवयस्क के 10 वर्ष के होते ही खाता उनके नाम पर स्थानांतरित कर दिया जाएगा. किसान विकास पत्र में 18 वर्ष या उससे अधिक आयु के तीन व्यक्ति एक साथ संयुक्त खाता खोल सकते हैं.

वापसी कर

किसान विकास पत्र 123 महीनों में परिपक्व होता है. अगर कोई इस योजना को लेने के एक साल के अंदर वापस कर देता है तो उसे किसी तरह का लाभ नहीं मिलेगा. डाकघर की यह योजना आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के अंतर्गत नहीं आती है. इसलिए किसान विकास पत्र में निवेश से प्राप्त आय की राशि पर आपको टैक्स देना होगा. हालाँकि, इस योजना में घुलित ठोस पदार्थ नहीं निकाले जाते हैं.

आप इस योजना में खाता कैसे खोलते हैं?

किसान विकास पत्र खुलवाने के लिए आपको डाकघर जाना होगा. उसके बाद, आवेदन को जमा रसीद के साथ भरना होगा और फिर निवेश राशि को नकद, चेक या मनी ऑर्डर में जमा करना होगा. आवेदन के साथ अपना पहचान पत्र भी संलग्न करें. आवेदन और पैसे जमा करने के बाद आपको किसान विकास पत्र प्रमाणपत्र मिल जाएगा.

Read Also: PNB अब चुनिंदा ATM कार्ड का विड्रॉल लिमिट बढ़ाने वाला है, कर सकेंगे ज्यादा विड्रॉल