The Chopal
बोतलबंद पानी की सबसे बड़ी कंपनी बिसलेरी, अब यह टाटा की होगी, डील को लेकर कंपनी ने कही ये बात
 

The Chopal, New Delhi: Bisleri Tata Deal: बोतलबंद पानी बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी बिसलेरी अपना कारोबार बेच रही है. कंपनी खरीदार की तलाश कर रही है और इसके लिए Tata समूह से बातचीत कर रही है. बिसलेरी इंटरनेशनल के अध्यक्ष और प्रसिद्ध उद्योगपति रमेश चौहान ने गुरुवार को कहा कि वह अपने बोतलबंद पानी के कारोबार के लिए खरीदार की तलाश कर रहे हैं और Tata कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड सहित कई कंपनियों के साथ बातचीत कर रहे हैं.

82 साल के रमेश चौहान से जब पूछा गया कि बिसलेरी क्यों बेची जा रही है. तब उन्होंने कहा कि भविष्य में किसी न किसी को काम संभालना ही होगा, इसलिए हम उपयुक्त रास्ता तलाश रहे हैं. दरअसल, उनकी बेटी जयंती को कारोबार संभालने में कोई दिलचस्पी नहीं है.

7,000 करोड़ रुपये की डील खारिज हो गई थी

इतना ही नहीं रमेश चौहान ने मीडिया में डील की रकम के बारे में भी बात की. उन्होंने टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड (टीसीपीएल) के साथ 7,000 करोड़ रुपये के सौदे की खबरों का खंडन किया है. दरअसल, चौहान से पूछा गया कि क्या वह पेसलेरी का कारोबार बेचेंगे. उसने कहा: हां, हम बेचते हैं. उन्होंने कहा कि समूह कई संभावित खरीदारों के साथ बातचीत कर रहा है. यह पूछे जाने पर कि क्या वह कंपनी को टाटा समूह की सहायक कंपनी को बेच रहे हैं, चौहान ने कहा, "यह सच नहीं है.

उसने 30 साल पहले सॉफ्ट ड्रिंक कंपनी बेची थी

तीन दशक पहले चौहान ने अपना शीतल पेय व्यवसाय अमेरिकी पेय कंपनी कोका-कोला को बेच दिया था. उन्होंने 1993 में कंपनी को थम्स अप, गोल्ड स्पॉट, सिट्रा, माज़ा और लिम्का जैसे ब्रांड बेचे. चौहान 2016 में शीतल पेय व्यवसाय में लौट आए, लेकिन उनका बिसलेरी पॉप उत्पाद बहुत सफल नहीं रहा.

Read Also: इस कंपनी के शेयर 79% से ज्यादा डूबे और निवेशक हुए कंगाल