The Chopal

Khatu Shyam Ji: मंदिर में आने के बन गए नए नियम, घर बैठे जानें कब और कैसे होंगे श्री खाटू श्याम बाबा के दर्शन

 

Khatu Shyam ji: राजस्थान राज्य के खाटू श्याम (khatu shyam ji) की धूम देश से लेकर दुनिया भर में है. बता दे कि काफी समय से बाबा के लोगों को बाबा अब दर्शन नहीं हो रहे हैं क्योंकि मंदिर के कपाट अभी बंद हैं. वहीं, अब लोगों का इंतजार खत्म होने वाला है और जल्द ही बाबा के मंदिर कपाट अब खुलने वाले हैं. अभी तक इसकी तारीख का ऐलान नहीं हुआ हैं, लेकिन अगले फरवरी के महीने में कपाट खुलने की संभावना है. 

वहीं, मार्च के महीने में लगने वाला फागुन या लक्खी मेले की तैयारियां भी अब शुरू हो गई. इसी के चलते मंदिर के कपाट खुलने में देरी भी हो रही है. और यह खाटू श्याम का मेला हर साल  फाल्गुन के महीने में कई दिनों के लिए लगता है. इस दौरान खाटू में पैर तक रखने की जगह भी नहीं होती है, क्योंकि यहां करोड़ों की संख्या में लोग बाबा के दर्शन करने के लिए देश भर से आते हैं. 

एक जगह पूजता बाबा का शीश और दूसरी जगह धड़ 

बता दे कि ये खाटू वाला श्याम राजस्थान के सीकर में बसा हुआ है. यहां केवल बाबा से शीश की पूजा होती है और इसे कलयुग का देवता भी कहा जाता है. वहीं, बाबा के धड़ की पूजा सीकर के पास रींगस में होती हैं. और श्री बाबा श्याम की कहानी महाभारत से जुड़ी हुई है. 

क्यों बंद हैं श्री बाबा श्याम के मंदिर के कपाट 

अब बाबा खाटू श्याम मंदिर को पहले की तुलना में बड़ा किया जा रहा है और उसे एक भव्य रूप भी दिया जा रहा है. इसी कारण यहां के कपाट बंद किए हुए हैं. वहीं, अब बाबा के मंदिर में ज़िकजैक में लगने वाली लाइन सीधे में भी बदल जाएगी, जिसमें 16 लाइने बनाई जा रही हैं. इससे भक्तों को परेशानी होगी. साथ ही, भक्तों के आने वाले रास्ते को भी 
चौड़ा करके 40 फिट तक किया जा रहा है. 

जानें इस साल कब लगेगा खाटू वाले श्री श्याम का मेला 

इस साल बाबा खाटू श्याम (Khatu Shyam Ka Mela) का मेला 6 मार्च से लेकर 15 मार्च 2023 तक ही लगेगा. ये खाटू श्याम का मेला 10 दिनों तक लगता है, जिसमें करोड़ों लोग देश भर से शामिल होते हैं. 

कब हुआ श्री श्याम बाबा का जन्म 

बाबा खाटू श्याम का जन्म कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को हुआ था. इसे हम देवउठनी एकादशी भी कहते हैं. इस साल बाबा का बर्थडे 22 नवंबर को धूमधाम से मनाया जाएगा. 
 
इस साल ऐसे होंगे खाटू नरेश श्री श्याम बाबा के दर्शन 

इस बार श्याम बाबा के दर्शन करने के लिए ऑनलाइन बुकिंग के अलावा उम्र को लेकर भी कुछ नियम बनाए गए हैं. बाबा के मंदिर के कपाट खुलने के बाद भक्तों को पहले ऑनलाइन पंजीकरण भी करना होगा, तभी आप मंदिर में दर्शन कर सकेंगे. इसके साथ ही नई नियम के मुताबिक , अब 10 साल से छोटे और 60 साल से बड़े उम्र के लोगों के लिए बुकिंग नहीं करनी होगी. बाबा खाटू श्याम के दर्शन के लिए 20 सेकेंड का वक्त भी मिलेगा. इसके अलावा मंदिर में जानें से पहले देख लें कि आपकी बुकिंग कंफर्म हो गई है या नहीं. बिना बुकिंग कंफर्म के आपको मंदिर में एंट्री भी नहीं मिल सकेगी. 

Also Read: Rajasthan Weather: भारी ठंड से राजस्थान में राहत, जल्द होगी बरसात, पढ़ें मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान