The Chopal

Rajasthan Weather: भारी ठंड से राजस्थान में राहत, जल्द होगी बरसात, पढ़ें मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान

 

The, Chopal, सीकर. राजतस्थान प्रदेश में प्रचंड ठंड का कहर बीते कुछ दिनों से लगातार जारी है। शेखावाटी में आज लगातार तीसरे दिन तापमान माइनस में दर्ज हुआ है, जो एक डिग्री की हल्की बढ़त के साथ आज माइनस 3.7 डिग्री तक दर्ज हुआ। इस बीच राज्य में मौसम वैज्ञानिकों ने आगामी दिनों में प्रदेश में बरसात की संभावना भी अब जता दी है। निजी मौसम कंपनी स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ की एक श्रृंखला 19 से 26 जनवरी के बीच पश्चिमी हिमालय तक पहुंचने की उम्मीद बन रही है। इसके प्रभाव से 23 जनवरी के आसपास हरियाणा और उत्तरी राजस्थान में एक चक्रवाती परिसंचरण विकसित होने की उम्मीद है। ऐसे में 23 से 25 जनवरी के बीच राजस्थान के कई हिस्सों सहित पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश व उत्तरी मध्य प्रदेश में बारिश की संभावना बन रही है।

अब तीन दिन रहेगा ठंड का प्रकोप, पड़ेगा पाला

अभी अंचल में ठंड का प्रकोप तीन दिन और जारी रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के मुताबिक हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी की वजह से अंचल को शीतलहर, व शीत दिन के साथ पाले का भी सामना भी करना पड़ सकता है। इस संबंध मं मौसम केंद्र ने सोमवार को सीकर, झुंझुनूं व चूरू जिलों में शीतलहर व शीत दिन के साथ पाले व मंगलवार को अति शीतलहर के साथ पाले का ऑरेंज तथा 18 जनवरी को शीतलहर का येलो अलर्ट भी जारी किया है।

राज्य के किसानों की बढ़ी चिंता

लगातार लुढ़कते पारे ने किसानों की चिंता भी बढ़ा दी है। सरसों व चने की फसल में अब नुकसान शुरू हो गया है। पाले से अब सब्जियों के बर्बाद होने की आशंका सताने लगी है। रामपुरा के किसान सुखदेवा राम ने मीडिया से बताया कि यदि दो तीन दिन पाला पड़ा तो फसलों को भारी नुकसान हो सकता है। कृषि विभाग ने भी सर्दी से बचाने के लिए फसलों की सिंचाई करने और हवाओं की तेज रफ्तार होने पर खेत की मेड के पास धुंआ जलाने की सलाह भी दी है। विभाग के मुताबिक फसलों में गंधक के घोल का स्प्रे भी करना चाहिए।

Also Read: राजस्थान में बर्फीली हवाएं हुई तेज, जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त