The Chopal
एक बार चार्ज करने पर दिल्ली से अहमदाबाद तक दूरी तय करेगी ये इलेक्ट्रिक कार, मात्र 2 घंटे में हो जाएगी पूरी चार्ज
 

The Chopal, New Dehli: जिस तरह इलेक्ट्रिक कारों को लेकर जिस तरह से भारत के लोगों का रूझान बढ़ रहा है. उसी तरह से दुनिया की बेस्ट इलेक्ट्रिक कार कंपनियां भारत में अपने मॉडल लॉन्च को कर रही हैं. बहुत जल्द Tesla को टक्कर देने वाली एक अमेरिकी इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी ऐसी कार इंडिया में बनाने जा रही है जो सिंगल चार्ज में दिल्ली से अहमदाबाद तक की दूरी को आराम से तय कर लेगी.

बता दे कि Tesla की प्रमुख प्रतिद्वंदी कंपनी Triton EV भारत में अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को लगाने जा रही है. इसके लिए उसने तेलंगाना सरकार के साथ एमओयू पर भी साइन किया है. हाल में कंपनी ने अपने Model H को लॉन्च करने का विचार किया है. कंपनी अपनी इस 8-सीटर एसूयवी को तेलंगाना राज्य के जहीराबाद में बनने वाले प्लांट में ही तैयार करेगी. इंडिया में ये कंपनी की पहली कार लॉन्चिंग भी हो सकती है. 

सिंगल चार्ज में जाए 1,000 किमी से अधिक 

अमेरिका की इलेक्ट्रिक कार कंपनी Triton EV का कहना है कि उसके Model H की लंबाई 5.6 मीटर तक होगी. यानी ये एक बड़ी एसयूवी भी होगी. Triton का दावा है कि इसमें 5,663 लीटर का स्पेस भी होगा. वहीं ये 7 टन तक का वजन भी कैरी कर सकेगी.

Triton कंपनी का कहना है कि इसमें 200kWh का बैटरी पैक भी होगा. इस तरह सिंगल चार्ज में ये 1,200 किमी की दूरी तय करने में सक्षम भी होगी. इंडिया में 1,000 किमी से ज्यादा की रेंज वाली ये पहली इलेक्ट्रिक कार भी हो सकती है. ऐसे में इससे दिल्ली से अहमदाबाद की लगभग 960 किमी और दिल्ली से सूरत की लगभग 1150 किलोमीटर की दूरी सिंगल चार्ज में तय हो जाएगी.

मात्र दो घंटे में होगी फुल चार्ज

Triton कंपनी का दावा है कि Model H की बैटरी हाइपर चार्जर की सुविधा के साथ भी आएगी. इसलिए हाइपर चार्जर से ये  मात्र 2 घंटे में पूरी तरह चार्ज हो जाएगी. Triton EV का कहना है कि भारत उसके लिए एक अहम बाजार भी है. इसलिए वो यहां ‘Make In India EV' पेश भी कर रही है. Triton कंपनी की यह तेलंगाना फैक्ट्री दुनिया में उसकी सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक व्हीकल फैक्ट्री भी होगी. गौरतलब है कि Triton EV की प्रतिद्वंदी कंपनी Tesla से भारत सरकार ने देश में गाड़ियां बनाकर बेचने की बात भी कही है. सरकार ने उसे स्पष्ट संदेश भी दिया है कि वो चीन में बनी गाड़ियां हिंदुस्तान में ना बेचे.

Also Read: Buy Now Pay Later: ई-कॉमर्स कंपनियों के ऑफर में फंस कर बिना पैसे कर रहे हैं खरीदारी, यह होगा अंजाम