The Chopal

दुनिया का पहला 'सेल्फ-बैलेंसिंग' इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च, जानिए इसके फीचर्स के बारे में

 

The Chopal, New Delhi: Liger Mobility Self Balancing Scooter- मुंबई स्थित लिगर मोबिलिटी की स्थापना दो आईआईटी स्नातकों ने की थी, यह स्टार्ट-अप लंबे समय से स्व-संतुलन तकनीक पर काम कर रहा है. इस तकनीक की खास बात यह है कि अगर इसे जरा-सा भी धक्का लगता है तो यह स्कूटर गिरती नहीं है. ऑटो एक्सपो की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, कुछ ही दिनों में ग्रेटर नोएडा का इंडिया मार्ट एक्सपो आयोजित किया जाएगा. सबसे ज्यादा वाहनों का जमावड़ा होने जा रहा है.

इस मौके पर ऑटो एक्सपो में दुनिया भर की कई कंपनियां हिस्सा लेती हैं, जो अपने एक से बढ़कर एक नए वाहनों और कॉन्सेप्ट को पेश करेंगी. इस बीच, मुंबई स्थित एक स्टार्टअप, लाइगर मोबिलिटी भी दुनिया का पहला 'सेल्फ-बैलेंसिंग' इलेक्ट्रिक स्कूटर पेश करने की योजना बना रहा है. यह स्कूटर कई मायनों में बेहद खास है. वह ऑटो एक्सपो में अपने नए सेल्फ-बैलेंसिंग इलेक्ट्रिक स्कूटर का प्रदर्शन करेगी. ग्रेटर नोएडा में इस बार 13 से 18 जनवरी तक ऑटो एक्सपो का आयोजन किया जा रहा है.

11 और 12 जनवरी की तारीखें निर्धारित की गई हैं. हर दो साल में लगने वाली इस प्रदर्शनी को कोरोना महामारी के कारण स्थगित कर दिया गया था, अब एक बार फिर लोगों के बीच चमचमाती कारें, साइकिलें और इलेक्ट्रिक वाहन बड़ी संख्या में देखने को मिलेंगे.

इस स्कूटर की खासियत

खैर, इस नए इलेक्ट्रिक स्कूटर की बात करें तो स्टार्टअप यह सुनिश्चित करता है कि इसमें सेल्फ-बैलेंसिंग तकनीक का इस्तेमाल किया गया है, जिसे पूरी तरह से लिगर मोबिलिटी द्वारा आंतरिक रूप से विकसित किया गया है. यह स्टार्टअप लंबे समय से इस तकनीक पर काम कर रहा है और पहले महिंद्रा ड्यूरो स्कूटर पर इसका इस्तेमाल कर इसका परीक्षण भी किया जा चुका है.

सेल्फ-बैलेंसिंग स्कूटर का वीडियो

कंपनी ने अभी तक इस इलेक्ट्रिक स्कूटर से जुड़ी तकनीकी जानकारी साझा नहीं की है. लेकिन कंपनी ने उनकी एक फोटो जरूर शेयर की है. जिसे देखकर कहा जा सकता है कि इसे नियो-रेट्रो-स्टाइल LED हेडलाइट्स से सजाया गया है. इस स्कूटर को किसी तरह का कोई सपोर्ट नहीं दिया गया है और स्कूटर खुद ही बैलेंस करके सीधा खड़ा हो जाता है.

मुंबई स्थित लिगर मोबिलिटी की स्थापना दो IIT स्नातकों ने की थी, यह स्टार्टअप लंबे समय से सेल्फ बैलेंसिंग तकनीक पर काम कर रहा है. इस तकनीक का मुख्य उद्देश्य सड़क पर दुर्घटनाओं को रोकना है. आमतौर पर देखा जाता है कि स्कूटर आदि चलाते समय लोग अपना संतुलन खो बैठते हैं. और हादसे का शिकार हो जाते हैं, लेकिन इस स्कूटर के साथ ऐसा नहीं है. 

Read Also: शायद आपका फोन आपको परेशान कर रहा है बैटरी खत्म करके तो ये टिप्स फॉलो करें, नहीं होगी बैटरी खत्म