The Chopal

IMD Weather Updates: कड़ाके की ठंड से राहत, देश के इन राज्यों में बारिश के साथ ओलें गिरने के आसार

 

IMD Weater Update: देश के भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अब बताया है कि देश के कुछ राज्यों में लोगों को कड़ाके की ठंड से कुछ राहत मिल सकती है। इन राज्यों के न्यूनतम तापमान में 3-5 डिग्री तक बढ़ोतरी होने की संभावना है। IMD के मुताबिअनुसार 19 और 20 जनवरी को ठंड की स्थिति में सुधार भी हो सकता है। यह सिलसिला अभी कुछ दिनों तक जारी रहने की संभावना है। हालांकि कुछ इलाकों के लिए येलो और ऑरेंज अलर्ट भी मौसम विभाग द्वारा जारी किया गया है।

मौसम विभाग के अनुसार, मध्य प्रदेश में 19 जनवरी के बाद तापमान में 3-5 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हो सकती है। महाराष्ट्र में तापमान 22 जनवरी तक 2-4 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ने की संभावना है। IMD ने 18 जनवरी और 19 जनवरी को हिमाचल प्रदेश में रात और सुबह में अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे की संभावना व्यक्त है। वहीं, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और बिहार में भी 18 जनवरी से 20 जनवरी तक जबकि ओडिशा, असम, मेघालय और त्रिपुरा में 18 जनवरी से 21 जनवरी तक घना कोहरा भी रह सकता है।

उत्तर पश्चिम भारत में ऑरेंज, येलो अलर्ट जारी

पंजाब, राजस्थान और हरियाणा सहित उत्तर पश्चिम भारत में शीतलहर की स्थिति जारी रहने के कारण मौसम विभाग ने इस क्षेत्र के अधिकांश हिस्सों में ऑरेंज और येलो अलर्ट भी जारी किया है। आईएमडी ने अगले सप्ताह हल्की बारिश और 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ ओलावृष्टि की भविष्यवाणी भी की है। IMD ने एक बयान में कहा कि एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ 21 जनवरी से 25 जनवरी तक उत्तर-पश्चिम भारत को काफी प्रभावित कर सकता है। परिणामस्वरूप बारिश होने और आंधी चलने की संभावना है।

मौसम कार्यालय ने कहा कि 23 और 24 जनवरी को जम्मू, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, पश्चिम उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम ओलावृष्टि भी कही कही हो सकती है। इसके अलावा आईएमडी ने पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में ऑरेंज और येलो अलर्ट भी जारी किया है।

ये ऑरेंज अलर्ट क्या होता है?

ऑरेंज अलर्ट संबंधित अधिकारियों को मौसम परिवर्तन से उत्पन्न होने वाली किसी भी आपातकालीन स्थिति का जवाब देने के लिए तैयार रहने के लिए कहता है, जबकि येलो अलर्ट दर्शाता है कि मौसम कभी भी बदल सकता है और इसलिए लोगों को सतर्क भी रहना चाहिए।

Also Read: Rajasthan Weather: राजस्थान में ठंड से राहत, अब इन 5 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी