The Chopal
Farming: बेहद मामूली खर्च में 1 लाख से लेकर 6 लाख तक की आमदनी, ये फूल की खेती कर देगी मालामाल
 

Business Ideas : यदि आप कम खर्च में कोई व्यापार शुरु करना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके काम के लिए ही है. यह बिजनेस है रजनीगंधा के फूलों की खेती. रजनीगंधा का सुगंधित फूलों में अपना ही एक स्थान है. रजनीगंधा के फूलों की सबसे अच्छी बात यह है कि ये फूल लम्बे समय तक सुगंधित बने रहते हैं और लंबें समय तक ताजा रहते हैं, जिस वजह से इसकी खुशबू बनी रहती है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस फूल की उत्पति मैक्सिको में हुई थी. भारत में भी कई सारे राज्यों में उसकी खेती हो सकती है.

इस तरीके से करें खेती

अगर आप खेती करना चाहता हैं तो आप उससे पहले ही प्रति एकड़ के हिसाब से 6 से 8 ट्रॉली गोबर डाल दें. गोबर के साथ ही आप जैविक खादों का भी प्रयोग कर सकते हैं. जैसे आलू की खेती कंद से होती उसी तरह से रजनीगंधा की खेती भी कंद से ही होती है. आप अगर इसकी खेती करेंगे तो एक एकड़ में कम से कम 20 हज़ार कंदों को लगाना होगा.

बेहतर होगी कमाई

अगर आप एक एकड़ में इस फूलों की खेती करना चाहते हैं तो आपको एक एकड़ से रजनीगंधा के 1 लाख फूल निकल जाएंगे. अगर आपके घर के पास में कोई मंदिर हो, या शादी हो या फिर ऐसी कोई बात हों जहां पर रजनीगंधा फूलों की जरूरत हो तो आपको अच्छी कीमत मिल सकती है.

रजनीगंधा का एक फूल डेढ़ रूपये से लेकर 8 रुपए तक में बिक जाता है. यानि अगर आप एक एकड़ में रजनीगंधा फूलों की खेती करते हैं तो आप 1.5 लाख रुपए से 6 लाख रुपए तक कमा सकते हैं.

पैकेजिंग का कार्य, 

ढीले फूल बांस की टोकरियों में पैक किए जाते हैं और कपड़े से ढके होते हैं. स्पाइक की लंबाई फूलों की रचियों की लंबाई और अलग-अलग फूलों की गुणवत्ता के अनुसार वर्गीकृत किया जाता है. फूलों के स्पाइक्स प्रति बंडल 50-100 स्पाइक्स में पैक किए जाते हैं और न्यूपेपर में लपेटे जाते हैं और फिर आगे बाजार मे बिकने के लिए भेज दिया जाता है.

Also Read: Maruti की यह धांसू गाड़ी देती है 28 का माइलेज, धड़ाधड़ बुकिंग करवा रहें लोग, जानें फीचर्स और क़ीमत