The Chopal
Business Ideas: 35 हजार में ये मशीन खरीद कर शुरू करें बिज़नेस, हर महीने कमा लेंगे 30-40 हजार रूपये
इस व्यापार को तेज गति से करने के लिए चिप्स बनाने की मशीन का प्रयोग किया जा सकता है. इसके लिए पोटैटो सस्लैसिंग मशीन का प्रयोग किया जाता है. यदि आप यह व्यापार बड़े पैमाने पर स्थापित करना चाहते हैं, तो आपको बड़ी मशीन की आवश्यकता पड़ सकती है, हालांकि इस व्यापार का आरम्भ छोटी मशीन अथवा हैण्ड स्लाइसर की सहायता से भी किया जा सकता है.
 

Business Idea: कोरोना काल के बाद लोग अपना कुछ करने पर ज्यादा जोर दे रहे हैं. अगर वो काम घर बैठे हो जाए तो सोने पर सुहागा जैसा मामला है. आज हमको आलू चिप्स के बिजनेस के बारे में बताने जा रहे हैं. बाजार में कई तरह की कम्पनियां चिप्स बना कर व्यापार कर रही हैं. कई बड़ी कम्पनियां इसके व्यापार से बहुत अधिक लाभ कमा रही है. घर में सरल ढंग से चिप्स बना कर बेचने के माध्यम से एक लम्बे समय तक चलने वाला व्यापार किया जा सकता है.

इस व्यापार के लिए आवश्यक कच्ची सामग्री के रुप में विभिन्न तरह के आलू जैसे साधारण आलू, मीठा आलू, आदि के साथ चिप्स बनाने के बर्तन और ताजे तेल, नमक एवं मिर्च पाउडर की आवश्यकता होती है.

कीमत 

आम तौर पर बाजार में साधारण आलू का मूल्य रू 1,200 प्रति क्विंटल होता है. यदि आप मीठे आलू का चिप्स बनाना चाहते हैं तो इसके लिए अधिक पैसे खर्च करने होंगे, हालांकि लाभ भी अधिक प्राप्त होगा. मीठे आलू का मूल्य रू 4600 प्रति क्विंटल होता है. चिप्स बनाने के लिए आवश्यक तेल का मूल्य रू 120 प्रति लीटर होता है. नमक का मूल्य 20 रुपए प्रति किलोग्राम और मिर्च पाउडर का मूल्य 200 रूपए प्रति किलोग्राम है.

इस व्यापार को तेज गति से करने के लिए चिप्स बनाने की मशीन का प्रयोग किया जा सकता है. इसके लिए पोटैटो सस्लैसिंग मशीन का प्रयोग किया जाता है. यदि आप यह व्यापार बड़े पैमाने पर स्थापित करना चाहते हैं, तो आपको बड़ी मशीन की आवश्यकता पड़ सकती है, हालांकि इस व्यापार का आरम्भ छोटी मशीन अथवा हैण्ड स्लाइसर की सहायता से भी किया जा सकता है.

चिप्स बनाने की सबसे छोटी मशीन की क़ीमत रु 35,000 है. आप चाहें तो इससे अधिक कीमत की मशीन भी प्राप्त कर सकते हैं.

व्यापार में कुल लागत

इस व्यापार की कुल लागत रु 80,000 से रु 1,00,000 तक की होती है. आप यदि मशीन नहीं बैठाना चाहते हो तो यह लागत काफ़ी कम हो जाती है, किन्तु उत्पादन कम होने की वजह से लाभ भी कम हो जाता है. व्यापार यदि छोटे पैमाने का हो तो आप यह व्यापार अधिकतम 10,000 रु में आरम्भ कर सकते हैं.

Also Read: Business Ideas: 50 हजार रूपये लगाकर शुरू करें यह बिज़नेस, कमाई में लग जायेंगे चार चाँद

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार के लिए पंजीकरण

एक खाद्य पदार्थ होने की वजह से व्यापार का पंजीकरण अनिवार्य होता है. आप अपना व्यापार भारत सरकार के एमएसएमई के अंतर्गत पंजीकृत करा सकते हैं. इसके अलावा आपको ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता होती है. इसके बाद आपको आपके व्यापारिक संस्था के नाम से बैंक अकाउंट और पैन कार्ड बनवाने की आवश्यकता होती है. आपको चिप्स का परीक्षण सरकार के खाद्य विभाग में करा कर FSSAI का लाइसेंस भी प्राप्त करना होता है.

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार में लाभ 

इस व्यापार से एक अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है. लाभ आपके चिप्स की क्वालिटी पर निर्भर करता है. बाज़ार में कई कम्पनियां हैं, जो अक्सर दस रुपए के पैकेट में भी बहुत कम मात्रा में चिप्स देते हैं, किन्तु इसके बाद भी उनकी सही क्वालिटी की वजह से उनका व्यापार बहुत आसानी से चल रहा है और लोग इसे ख़रीद भी रहे हैं. आप यदि मशीन का प्रयोग करते हैं, तो मासिक तौर पर आपको 30,000 से 40,000 तक का लाभ प्राप्त हो सकता है.

Also Read: Business Ideas: ये मशीन लगाकर शुरू करें बिज़नेस, होगी मोटी आमदनी, जानिए क्या है प्रोसेस