The Chopal
Bamboo Farming: बांस की खेती से किसानों हो रहे मालामाल, कम लागत में मिल रहा बड़ा फायदा
 

Bamboo Farming: खेती आज के ज़माने में घाटे का सौदा नही रहा है अगर किसान सही तौर तरीके से कई तरह की खेती अपना कर अच्छा पैसा जुटा सकता है. इसी तरह 'बांस की खेती' से किसान अपनी आमदनी में इजाफा कर सकता है. एक तरह से ग्रीन गोल्ड कहां जाने वाला बांस जिसकी खेती का प्रचलन पिछले कुछ समय से बढ़ा है. इस खेती के लिए राज्य सरकार भी मदद करती है.

मध्य प्रदेश सरकार को बांस की खेती के लिए 50 प्रतिशत तक सब्सिडी प्रदान कर रही है. बांस की खेती अगर सही तरीके से की जाए तो आमदनी भी काफी बताई जाती रही है. इसका एक कारण यह भी माना जा सकता है की देश बांस की खेती कम की जाती है. परंतु बाजार में मांग निरंतर काफी बनी रहती है. खेती से किसानों हो रहे मालामाल, कम लागत में मिल रहा बड़ा फायदा

बांस की खेती के बारे में कृषि विशेषज्ञों और बड़े किसानों मानना है कि यह फसल दूसरी फसलों के मुकाबले में काफी सुरक्षित भी है. जिससे काफी अच्छी आमदनी भी की जा सकती है. बांस खेती की खासियत है कि किसी भी मौसम में खराब नहीं होती है. बांस की फसल को एक बार लगाकर कई सालों तक इससे उपज लिया जा सकता है. बांस की खेती में खर्च भी कम होता है. और बड़ी बात यह है की मेहनत कम ही लगती है परंतु कमाई के मामले में शानदार है. 

कम लागत में ज्यादा फायदा 

लगभग 3 साल में बांस के एक पौधे की लागत करीब 240 रूपये तक आती है. एक हेक्टेयर जमीन में बांस के 625 पौधे के आसपास आसानी से लगाए जा सकते हैं. कहीं भी नर्सरी से बांस का पौधा खरीदा जा सकता है. कई किसान अपने खेत के चारों और बांस के पौधे लगाते हैं व 2 से 3 साल उसमें मेहनत कर ठीक पैसा भी कमाते हैं. कुछ ही हेक्टेयर जमीन पर बांस की खेती से 4 साल में लाखों की कमाई की जा सकती है.

बांस की खेती के किए उपयुक्त महीना 

किसान भाइयों जुलाई महीने में बांस के पौधे की रोपाई सबसे ठीक मानी जाती है. सिर्फ 3 महीनों में ही बांस का पौधा प्रगति शुरू कर देता है. लगभग 3 से 4 साल में बांस की फसल पककर तैयार हो जाती है. बांस के पौधे की कटाई अक्टूबर से दिसंबर तक की जा सकती है. मध्य प्रदेश राज्य सरकार के अलावा भी केंद्र सरकार ने भी देश में बांस की खेती को बढ़ावा देने के लिए साल 2006-07 में राष्ट्रीय बांस मिशन शुरू किया था.

यह भी पढ़ें : Maruti की ये गाड़ी मात्र 7500 रूपए प्रति महीने में आएगी आपके घर, जानें कैसे